Baat karne ka tarika // बात करने का अंदाज़ 

Let`s read about lifestyle on topic baat karne ka tarika in hindi language

बात करने का अंदाज़ 

आपकी शख़्सीयत पुरकशिश बना सकती है 

यह बात ठीक है कि इन्सान की ज़ाहिरी नुमाइश उसकी शखसीयत का खुला रूप
पेश करती है। मगर यह बात भी सच है कि इन्सान के अन्दर की शखसीयत उसकी
बातों और बात करने के अन्दाज़ से ज़ाहिर होती है। जहां ज़ाहिरी तौर पर शखसीयत
में कुछ कमी हो, बात करने का खूबसूरत अन्दाज़ उस कमी को पूरा कर देता है।
अन्दाज़ खूबसूरत हो या बदसूरत यह आपकी पूरी शख़सीयत पर असर अन्दाज़ होता है।
हमें बहुत से लोग मिलते हैं जो अपनी जाहिरी खूबसूरती की रफ़से लापरवाहोते
हैं। न वह ज़ाहिरी खूबसूरती के लिए बनावट का सहारा लेते हैं। देखने में उनमें
कोई कशिश नज़र नहीं आती। मगर जब बात करते हैं तो अपने खूबसूरत अन्दाज़
से लोगों के दिलों में मकाम बना लेते हैं और दिल उनसे बार बार मिलने को चाहने
लगता है। उसकी वजह उनकी खुश अख़लाक़ी और बात करने का अन्दाज़ है।

baat karne ka tarika

कभी कभी ज़ाहिरी खूबसूरती का असर बात करने पर खत्म हो जाता है। सारी
खूबसूरती धरी की धरी रह जाती है । अगर आपके बात करने का अन्दाज़ अच्छा है तो
आपकी शख़सीयत निखर जाती है। इसलिए कहीं भी बोलने से पहले सोचें कि आप क्या
बोलने जा रहे हैं। आपके बोलने का अन्दाज़ कैसा है । इस बात का भी खास ख्याल रखें
कि जिससे आप बात कर रहे हैं वह उम्र के किस दर्जे पर है। आपसे बड़ा है या छोटा।
अपनी बात को खुश अखलाकी से कहें। कोशिश करें आपकी बात से किसी को
तकलीफ न पहुंचे या उसे तौहीन महसूस न हो। बात करने से पहले यह बात याद
रखें कि आपका बात करने का अन्दाज़ आपकी पूरी शखसीयत जाहिर कर देगा।
कुछ ख्वातीनजोज़ाहिरी तौर पर बेहद खूबसूरत नज़र आती हैं लेकिन जब बात
करती हैं तो उनकी सारीजाहिरी खूबसूरती बे असर हो जाती है। नर्म, शीरी लहजा,
धीरे धीरे बात करना आपकी शखसीयत की खूबसूरती को बढ़ा देगा । सख्त, तन्जिया
या रूखा लहजा, ऊंची आवाज़ में बोलना आपकी ज़ाहिरी खूबसूरती को भी खत्म कर
देगा।

Thanks for reading this artical on baat karne ka tarika

read more post 

Leave a Comment

Your email address will not be published.