Hindi kahani for kids // चमत्कारी अँगूठी 

hindi kahani for kids

प्यारे बच्चो- आज हम आपके लिए hindi kahani for kids ले कर आये हैं और मुझे पूरा विश्वास है की आप  जब इस hindi kahani for kids को पढ़ेंगे तो आनंद से भर जाएगे | 

चमत्कारी अँगूठी 

पुराने  समय की बात है। एक गाँव में पिंटू नाम का एक गरीब लड़का अपनी माँ के साथ रहता था। वह सभी का भला चाहता था। पिंटू जो भी बुरे
सपने देखता था, वह सच हो जाते थे। पिंटू लोगों को अपने सपने बता देता था, ताकि उन्हें कोई नुकसान न हो। लोग उसे अपनी परेशानियों का कारण मानते थे। एक दिन गाँव वालों ने उसे गाँव से निकाल दिया। पिंटू चलते-चलते बहुत थक गया। वह एक पेड़ के नीचे सो गया। तभी उसको सपना आया कि एक परी को खाने के लिए एक भयानक राक्षस आ रहा है।

पिंटू की अचानक आँख  खुली, तो उसने वही सपने वाली घटना देखी। पिंटू ने पास पड़ी छड़ी उठाकर राक्षस के सिर पर दे मारी। वह वहीं बेहोश हो गया। परी ने अपनी जान बचाने के लिए पिंटू को एक चमत्कारी अँगूठी दी और उससे कहा कि तुम जो चाहो उस चमत्कारी अँगूठी से माँग सकते हो। परी आकाश में उड़ गई। तभी राक्षस होश में आ गया, लेकिन पिंटू ने उसे अँगूठी की मदद से  उसे अपने वश में कर लिया। राक्षस भी उसका दोस्त बन गया। राक्षस ने पिंटू से कहा कि जब तुम्हें मेरी मदद चाहिए, तब तुम मुझे याद कर लेना मैं फौरन आ जाऊँगा । पिंटू फिर जंगल की ओर चल पड़ा। जंगल में उस पर एक तेंदुए ने हमला कर दिया। तब एक बूढ़े आदिवासी ने तेंदुए से उसकी जान बचाई। पिंटू ने उसे धन्यवाद दिया और उसका अहसान चुकाने के लिए कोई काम करने का प्रस्ताव रखा।

बूढ़े ने कहा कि वह राजकुमारी को जादूगर की कैद से आजाद करा दे। राजकुमारी को जादूगर ने गुफा की एक चट्टान में कैद कर रखा था। पिंटू ने राक्षस को बुलाया और उसे जादूगर तक पहुँचाने के लिए कहा। राक्षस उसे जादूगर की गुफा में ले गया। वहाँ उसे राजकुमारी मिली उसने बताया कि जादूगर एक फूल के रस से ही मर सकता है। उस फूल में यह खासियत है कि वह कभी नहीं मुरझाता है। पिंटू और अंदर गया उसे एक पक्षी दिखा, जो मनुष्य बन गया। असल में यही वह जादूगर था। तब पिंटू ने अपनी चमत्कारी अँगूठी से जादूगर को बेहोश कर दिया। उसने उसी अँगूठी से वह खास फूल ढूँढ  लिया और उसका रस जादूगर को पिला दिया। जादूगर मर गया और पिंटू राजकुमारी को आजाद करा लाया। वह बूढ़े आदमी के पास आया और राजकुमारी को सौंप दिया। राजकुमारी ने खुश होकर पिंटू को बहुत-सा इनाम दिया। पिंटू इनाम लेकर वापस गाँव आ गया। अब सभी गाँववाले उसे सिर-आँखों  पर बैठा कर रखते।

प्यारे बच्चो आप सभी को ये कहानी कैसी लगी हमे जरूर बताइयेगा ताकि हम आपके लिए इसी तरह के मज़ेदार कहानियाँ ले कर आएं – धन्यवाद 

Read more stories

Child story in hindi // गहनों की चोरी { पंचतंत्र की कहानी }

Child stories in hindi // जासूस की कहानी 

Child hindi stories for kids // विदेशी मेहमान { जंगल की कहानी }

Hindi kahaniyan bachon ki // फुलझड़ी रानी का कप 

Bal kathayen bacho ki // हजामत { एक नाई की कहानी }

Motivation story hindi // मन का बोझ { अब्राहम लिंकल्न की कहानी }

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *