Best English Sikhne ka Tarika | इंग्लिश सिखने का आसान तरीका

अंग्रेजी सीखने में जो दो सबसे बड़ी बाधाएं हैं, वे हैं झिझक और अंग्रेजी में ना सोच पाना। अंग्रेजी बोलने का लाख प्रयास करने के बावजूद जब भी हम किसी नये व्यक्ति के सामने अंग्रेजी बोलने की कोशिश करते हैं तो ना जाने कहां से झिझक आकर हमारा रास्ता रोक लेती है। साथ ही हम चौबीस घंटे यह सोचते रहते हैं कि हमें अपनी अंग्रेजी इम्प्रूव करनी है। मजेदार बात यह है कि यह बात भी हम हिंदी में ही सोचते हैं। और अंग्रेजी को बेहतर बनाने के लिए यह बेहद जरूरी है कि हम अंग्रेजी में सोचना शुरू करें। यहाँ  हम आपके लिए इन दोनों बाधाओं के बारे में और इनसे पार पाने के रास्ते english sikhne ka tarika आपको  बता रहे हैं। ये रास्ते आपकी अंग्रेजी बेहतर करने में निश्चित रूप से मददगार साबित होंगे।

 

सीखनी हो अंग्रेजी 

तो दूर करो Hesitation 

( english sikhne ka tarika )

english sikhne ka tarika

Hesitation हमारे और अंग्रेजी सीखने के बीच में बहुत बड़ी रुकावट बन कर आया है। अगर हम इस रुकावट को पार कर लें तो हमारे और अंग्रेजी के बीच में कुछ ही कदमों का फासला रह जाएगा। बहुत बार हम अंग्रेजी सीखने की कोशिश के बाद भी अंग्रेजी नहीं सीख पाते। इसका मुख्य कारण बोलने में hesitation है। हम dictionary का खूब इस्तेमाल करते हैं।

 

अपनी vocabulary भी बढ़ाने की कोशिश करते हैं और ग्रामर भी काफी हद तक सीख लेते हैं, फिर भी हम अंग्रेजी नहीं बोल पाते और हमारे जेहन में बस एक ही बात आती है कि हम इतनी कोशिश करने के बाद भी अंग्रेजी क्यों नहीं बोल पा रहे? और इस वजह से हमारा confidence भी कम होने लगता और हम सोचने लगते हैं कि हम अंग्रेजी कभी नहीं सीख पाएंगे और यही एक बहुत बड़ी रुकावट के रूप में हमारे सामने आ जाता है। इसीलिए जरूरी है कि हम hesitation छोड़ें और बोलना शुरू करें।

 

इससे शुरुआत में दिक्कतें बहुत आएंगी। हो सकता है आप बीच में अटक जाएं तो इसका भी हल है। हम एक ग्रुप बना सकते हैं-अपने दोस्तों का, और हम आपस में बोलना शुरू करें। इससे अगर कोई बीच में अटकता है तो आपके दोस्त आपका मजाक उड़ाने की बजाय आपकी मदद जरूर करेंगे।

इससे भी आपकी hesitation काफी हद तक दूर हो सकती। इसी के साथ यह भी जरूरी है कि कोई जानकार हमारी गलती को सुधारे। इससे हमें अंग्रेजी सीखने में और आसानी हो जाएगी। हो सकता है कि अंग्रेजी सीखने की कोशिश को देख कर आपका कई लोग मजाक भी उड़ाएं, पर अगर हम इन सबको कोई अहमियत न दें और निरंतर अंग्रेजी बोलें. जिसमें अगर एक-आध हिंदी शब्दों का प्रयोग भी कर दें तो उसमें कोई बुराई नहीं…इससे हमारा hesitation तो दूर होगा ही, साथ ही हम ये भी देखेंगे कि हमारी अंग्रेजी सीखने का प्रयास भी सफल हो रहा है। तो सीखनी हो अंग्रेजी तो बस तीन चीजों का ध्यान दें।

No hesitation
Be open to criticism
Never stop talking in English

SOCIAL MEDIA LINKS

Also Read-

Articles in Hindi | Rules and use of Article ‘A/An & The

 

English idioms in Hindi with meaning | इंग्लिश मुहावरे व कहावतें

 

Must Read –

Past Tense | Simple Past Tense—Formula and Charts

Present Tense | Simple Present Tense—Formula and Charts

Tense Chart in English—Tense Types, Definition, Rules

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *