Love story in hindi | सच्ची  मुहब्बत

हेल्लो दोस्तों- आज मैं आपके लिए love story in hindi ले कर आया हूँ और मुझे पूरी उम्मीद है की आपको love story in hindi पसंद आएगी | 

सच्ची  मुहब्बत

मैं अपनी ग्रेजुएशन   की पड़ाई पूरी करने के बाद मै नौकरी की तलास में अपने गांव के एक दोस्त के साथ दिल्ली के पास नोएडा में आ गया ! मैं  जल्द MultiNational Company Computer _operater के पद नौकरी कर ली ,फिर एक कमरा किराये पर लेकर रहने लग गया  जिस मकान मे रहता था वह तीन मंजिल वाला   मकान का था ! और मैं सबसे ऊपर वाली छत   पर रहता था एक दिन जब मै छत पर गया और इधर उधर टहलने लगा तभी मेरी अचानक नजर बगल वाले छत पर गई तो देखा एक लड़की हमे बड़े प्यार से देख रही थी  , मैं  भी उसे देखने लगा थोड़ी देर बाद वो मुस्कुराकर चली गई ! मुझे ऐसा लगा की शायद वो मुझे पसंद  कर रही हैं !पता नही क्यो उस लड़की को बार -बार देखने को मन करता फिर मैं  हर दिन उसे देखने के लिये मैं  अपने छत पर जाया करता था, वो भी मुझे देखने के लिये आया करती थी ! ऐसे ही ये सिल – सिला 6 महीनो तक चलता रहा फिर मै किसी तरह उस लड़की का नाम पता किया उस लड़की का नाम सपना  था !

love story in hindi

वो BSC कर रही थी और साथ मे computer Course कर रही थी ! वो शाम को जब अपने Computer class से वापस लौटती तो ! मै जब भी डियूटी से आता उसको एक नजर देखने के लिये मै उसका रास्ते मे जाकर इन्तजार किया करता था , लेकिन कभी उससे बात नही होती ! न बात करने की हमारी हिम्मत होती ! मैं  उसको इतना चाहने लगा था हर समय उसकी यादो मे खोया रहता था चाहे दिन हो चाहे रात हर समय उसका ही चेहरा दिखाई देता मैं  इतना पागल हो चुका था सपना ‘ के प्यार में !

 

मै अपना कम्पनी में ठीक तरह से कार्य भी नही कर पा रहा था और हर दिन मैं अपने बोस की डाट खाता था और मुझे हर रोज नौकरी से निकलने की धमकी देते थे ! न जाने मुझे कौन स रोगलग गया था  मै लेकिन अब तक अपने दिल की बात सपना ‘ सें नही कह पाया था ऐसा करते मुझे 2 साल बीत चुके थे और अब तक अपने प्यार का इजहार भी नही कर पाया था ! प्यार भी करता था और कहने से भी डरता था !

कितना पागल था जबकि  सपना  ये बात जानती थी की मैं उसे like करता हूँ और प्यार भी करता हूँ एक दिन अचानक मुझे सपना  मन्दिर में बुलाई , मुझे लगा की शायद वो मुझे कुछ कहना चाहती थी जो मैं कहना चाहता हूँ , आज मैं भी सोच रहा था की आज । अपने दिल की बात कह ही देता हूँ ! मौका अच्छा हैं ! फिर मैं पहल से ही मन्दिर में जाकर सपना  का इन्तजार करने लगा फिर थोड़ी देर बाद सपना  आई तो __ मैं सपना  को देखकर बहुत खुश हुआ! जब सपना  मेरे पास आयी और कही हाय विशाल ‘ कैसे हो, मै -अच्छा हूँ आप कैसी है सपना ‘ बोली ठीक हूँ !

 

फिर सपना  मेरे से बोली विशाल  मै आपसे ये जानने के लिये आपको बुलाई हूँ कि मैं देख रही हूँ कि आप 2 सालो से मेरे पीछे-पीछे घूम रहे हैं विशाल  क्या आप ये जानते है कि मै आपसे प्यार नही करती हूँ , सपना ‘ मेरे से इतना कहते ही मैं बिल्कुल मायूस हो गया और सोच में पड़ गया थोड़ी देर बाद मैं सपना  से बोला , मै- ये मै नही जानता था कि  की  आप मुझसे प्यार नही करती हैं ,

 लेकिन मै आपसे बहुत प्यार करता था और करता हूँ , I LOVE YOU SAPNA  इतना कहते ही सपना  मेरे से कहने लगी प्यार एक तरफ से नही होता विशाल , प्यार दोनो तरफ से होता हैं क्यो अपना future मेरे पीछे बर्बाद कर रहे हों॥  मै-  सपना  मैं आपसे प्यार करता हूँ , और आप future की बात कर रही हो मै तो आपके बिना जी नही पा रहा हूँ , हर पल आपकी यादो में खोया रहता हूँ सपना – देखो विशाल  मैं आपसे प्यार

नही करती मैं सिर्फ अपने Future से प्यार करती हूँ , आज के बाद मेरे पीछे मत घूमना नही तो आपके लिये अच्छा नही होगा मै- सपना  क्या मेरा प्यार दिल लगी तक रह जाएगा !’ सपना ‘ – हाँ  ‘ Verry_sorry अपना ख्याल रखना इतना कह कर वो चली गई और मैं करता भी तो क्या करता बडे दुख   के साथ रोता हुआ अपने Room पर चला आया अभी तक मेरे जिन्दगी में इतना बड़ा दर्द कभी नही मिला था । सपना  मुझसे एक पल में वेवफा हो गई और मुझसे दूर भी  हो गई |

दोस्तो I LOVE YOU यें इन तीन शब्द सुनने के लिये अब तक पीछे-पीछे घूमता रहा और जरूरत पड़े तो मरने को भी तैयार था ! इन तीन शब्दो के लिये उसकी छाया उसकी धड़कन उसकी सॉस बनकर उसके पास रहना चाहता था ! लेकिन इन्ही तीन शब्दो के लिये अपना सब कुछ खोकर आज मैं पागल बनकर रह गया हूँ , माँ के पेट मे लड़का हैं या लड़की ये जानने के लिये दस महीने काफी होते है , मगर उसके दिल में क्या था यें जानने के लिये मुझे दो साल लग गये ,मगर गलती सपना  की नही मेरी हैं ! लड़की के दिल में प्यार है या नही ये जानने के लिये एक घन्टे एक दिन एक साल काफी होते है , लेकिन मै दो सालो से उसके पीछे-पीछे घूमता रहा

कितना पागल हूँ मैं , लेकिन  इस पागलपन का शिकार एक अकेला मैं ही नही मेरे जैसे नौजवान लाखो हैं करोड़ो है जो मुम्बई के मरीन track में कोलकत्ता के पार्क स्टेट में चेन्नई के मरीना ब्रीज में या दिल्ली के कर्नाट प्लेस में हर शहर हर गली में सच्चे प्यार के लिये पागल बनकर घूम रहे हैं !

मगर उनके दिल में भरे हुए सच्चे प्यार को कोई लड़की समझती नही ! प्यार आदमी को पागल बना देता हैं खूनी बना देता हैं मगर इसी प्यार में हम जैसे पागल को इन्सान बना दिया ! जब मुझे प्यार से प्यार था तो वो मुझे बहुत पसंद थी ! वैसे भी प्यार के जाने बिना मर जाने से बेहतर हैं कि हम उस प्यार को जानकर भूल जाये दोस्तो एक आदमी के जीवन में 2 साल काफी होते हैं जो वक्त पड़ने के लिये कुछ बनने के लिये होता हैं वो 2 साल मैने पागल पन में खो दिया दोस्तो जो मेरी तरह प्यार में पागल होकर अपनी जिम्मेदारियों को भूल गये है शायद जो बात मेरे दिल से निकली हैं, आप लोगो के दिल में असर कर जायें दोस्तो मुझे  ऐसा प्यार नही चाहिए !

दोस्तों! आपको हमारी love story in hindi कैसी लगी हमे जरूर बताइयेगा ताकि हम आपके लिए इसी तरह की love story in hindi  ले कर आ सके – धन्यवाद 

Read more stories 

Piyar ki kahani // मुहब्बत का ताबूत

Romantic story hindi // मुहब्बत के ख़्वाब

Romantic stories in hindi // मुहब्बत की आग

Story about love in hindi // मुहब्बत  का सफ़र 

Story on love in hindi for lovers // आग का दरिया 

Leave a Comment

Your email address will not be published.